Pages

Thursday, February 10, 2011

तेरे जाने के बाद...


तेरी अहमियत, ज़रुरत,मोहब्बत और जज्बात

सबका एहसास हुआ आज तेरे जाने के बाद
||


जयकरन सिंह भदौरिया 'जय'

2 टिप्पणियाँ:

वन्दना said...

यही तो मुश्किल है सब अहसास जाने के बाद होते है पहले हो जाये तो कोई किसी को जाने ही क्यों दे।

Patali-The-Village said...

बहुत सुन्दर अभिब्यक्ति| धन्यवाद|